Ind Vs Aus T-20 Match: भारत-ऑस्ट्रेलिया के चौथे मैच की मेजबानी करने वाले स्टेडियम में नहीं है बिजली, इतने करोड़ का बिल है बकाया!

There is no electricity in the stadium hosting the fourth match of India-Australia

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच आज रायपुर के शहीद वीर नारायण सिंह स्टेडियम में चौथा टी20 इंटरनेशनल मैच खेला जाएगा। लेकिन महत्वपूर्ण मुकाबले से कुछ घंटे पहले स्टेडियम के कुछ भागों में बिजली नहीं है। वजह जानकर शायद आप हैरान हो जाएं, लेकिन आपको बता दें कि 2009 से इस स्टेडियम का बिजली बिल बकाया था।

बताते चले कि, स्टेडियम पर 3.16 करोड़ रुपये का बकाया है, जिसके कारण पांच साल पहले स्टेडियम में बिजली गुल हो गई थी। छत्तीसगढ़ क्रिकेट एसोसिएशन के अनुरोध पर, एक अस्थायी कनेक्शन स्थापित किया गया है, लेकिन इसमें केवल गैलरी और दर्शक बॉक्स शामिल हैं। ऐसे में आज के मैच के दौरान फ्लडलाइट को जनरेटर द्वारा ही इस पुरे मुकाबले को संचालित करने की स्तिथि बन गयी है।

क्रिकेट एसोसिएश ने किया यह आवेदन

रायपुर ग्रामीण के निदेशक अशोक खंडेलवाल ने कहा कि क्रिकेट एसोसिएशन के अधिकारी ने स्टेडियम की अस्थाई कनेक्शन की क्षमता बढ़ाने का आवेदन किया है।

वर्तमान में 200 KV अस्थाई कनेक्शन की क्षमता है। उसकी क्षमता को एक हजार KV में बढ़ाने का आवेदन स्वीकृत हो चुका है, लेकिन अभी तक इस पर काम नहीं हुआ है।

आपको बता दें, यह मामला पहले साल 2018 में भी एक इवेंट के दौरान सामने आया था। दरअसल, इस दौरान हाफ-मैराथन में भाग लेने वाले एथलीटों को पता चला कि स्टेडियम में बिजली नहीं है, जिससे हंगामा हुआ। तब यह बात सामे आई कि 2009 से बिजली बिल नहीं भुगतान किया गया है, जो अब 3.16 करोड़ रुपये हो गया है।

2018 के बाद हुए 3 मैच हुए आयोजित

हाफ मैराथन के दौरान बिजली कटौती के बाद से, स्टेडियम ने तीन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की मेजबानी की है।

छत्तीसगढ़ क्रिकेट एसोसिएशन के मीडिया कोऑर्डिनेटर, तरूणेश सिंह परिहार ने कहा कि वह अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट के आयोजन को लेकर निराशावादी हैं, क्योंकि इसमें समस्याएं थीं। उन्होंने कहा कि वे बड़े मैचों में जेनरेटर को वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में उपयोग करते हैं।

“जहां तक स्टेडियम की रोशनी का सवाल है, मुझे नहीं पता कि कितना बिल बकाया है, लेकिन CSCS के नाम पर एक अस्थायी कनेक्शन लिया गया है,” श्री परिहार ने आगे जानकारी देते हुए कहा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *