Crime News :राजस्थान के टोंक में 93 वर्षीय मंदिर के पुजारी की हत्या, जनता ने किया विरोध प्रदर्शन!

93-year-old temple priest murdered in Tonk, Rajasthan, public protests!

बुधवार को पुलिस के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, राजस्थान के टोंक जिले के डिग्गी कस्बे में एक मंदिर के 93 वर्षीय पुजारी की अज्ञात बदमाशों ने हत्या कर दी। जिसके चलते वहां के स्थानीय लोगों के द्वारा अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर मंदिर के बाहर धरना प्रदर्शन किया गया। यह पुजारी करौली जिले के निवासी थे और पिछले 50 साल से मंदिर परिसर में सेवा-भाव कर जीवन व्यतीत कर रहे है।

पुलिस के मुताबिक, करौली जिले के निवासी महंत सियाराम दास महाराज मंदिर में अकेले रहा करते थे। मंगलवार की रात भी वह मंदिर में सो रहे थे, जिस समय बदमाशों ने उनके सिर पर वार किया और फिर हत्या को अंजाम देकर उस जगह से फरार हो गये।

लोगों ने किया धरना प्रदर्शन

पिछले 50 वर्षों से प्राचीन भूरिया महादेव बाबा धाम में सियाराम दास जी पुजारी अपनी सेवा दे रहे है। यही कारण है की स्थानीय लोग उन्हें बहुत अच्छे से पहचानते थे और इस खबर के चलते उनके मन में अपराधियों के प्रति बहुत अधिक गुस्सा है। इस खबर का पता चलते ही लोगों भारी संख्या में एकत्रित हो गए और मंदिर के नारेबाजी करते हुए धरना ओर बैठ गए। मंदिर परिसर के अलावा भी उस जगह सभी ओर धरना प्रदर्शन के चलते सभी ओर तनाव का माहौल है।

अपराधियों की तलाश में जुटी पुलिस

इस पुरे मामले पर जानकारी देते हुए, टोंक जिले के SP राजर्षि राज वर्मा ने कहा, “यह हत्या का मामला है और पोस्टमॉर्टम करने के लिए एक मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है। हमलावरों की तलाश की जा रही है।” इस मामले पर आगे जानकारी देते हुए कि सबूत इकट्ठा करने के लिए फोरेंसिक विशेषज्ञों को मौके पर बुलाया गया था और एक डॉग स्क्वाड भी तैनात किया गया था। पुलिस के अलावा BJP प्रदेश उपाध्यक्ष और टोंक सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया ने इस घटना पर गहरी आपत्ति जताई है और CM अशोक गहलोत ने निशाना साधा है। सांसद सुखबीर जौनपुरिया अपनी बात रखते हुए कहा- “यह बेहद निंदनीय घटना है। प्रशासन गहरी नींद में है और उसे किसी बात की परवाह नहीं है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *