उज्जैन,महाकाल की नगरी शर्मसार: 12 साल की अर्धनग्न रेप पीड़िता गुहार लगाती रही लेकिन मदद करने वाला नहीं..

Ujjain, the city of Mahakal, put to shame: 12 year old semi-nude rape victim kept pleading but no one could help.

उज्जैन,महाकाल की नगरी शर्मसार: 12 साल की अर्धनग्न रेप पीड़िता गुहार लगाती रही लेकिन मदद करने वाला नहीं..

Rape in ujjain: मध्य प्रदेश के उज्जैन में एक शर्मनाक घटना सामने आई है। एक नाबालिग रेप पीड़िता लहूलुहान और अर्धनग्न अवस्था में लोगों से मदद की गुहार लगाती रही, लेकिन लोग उसकी मदद करने के बजाय उसे भगाते नजर आए.

उज्जैन,महाकाल की घटना के बारे में सुनकर हर कोई हैरान है। इसके अलावा, महाकाल की नगरी में इंसानियत शर्मसार हो गई है, क्योंकि यहां एक 12 साल की मासूम बच्ची अर्धनग्न और बेहोशी की हालत में मिली है. पूरी घटना का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है.

Ujjain,
Madhya Pradesh News: मध्य प्रदेश के उज्जैन में मानवता को शर्मसार करने वाली एक खबर प्रकाशित हुई है। यहां पहले तो 12 साल की एक अर्धविक्षिप्त लड़की के साथ रेप हुआ और जब वह लहूलुहान हालत में मदद की गुहार लगाने लगी तो उसने देखा कि लोग उसके साथ छेड़छाड़ कर रहे हैं. यह लड़की मदद पाने के लिए अर्धनग्न होकर 10 से 12 किलोमीटर तक दौड़ी। वह कई घरों के दरवाजे पर गया और मदद मांगी, लेकिन उस दौरान कोई भी उसकी मदद के लिए नहीं आया. मदद के लिए जा रही लड़की का वीडियो कई CCTV कैमरों में कैद हो गया. बाद में पीड़िता आचार्य आश्रम की मदद से अस्पताल पहुंचने में कामयाब रही. मैं आपको पूरी कहानी बताऊंगा, लेकिन पहले हम पुलिस की राय लेंगे…


“पीड़िता चिंतित स्थिति में है. बातचीत से पता चला कि वह यूपी के प्रयागराज की रहने वाली थी. उसके साथ रेप की पुष्टि हो गई है. हालत बिगड़ने पर उन्हें इंदौर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पुलिस ने उन्हें जरूरत के मुताबिक खून दिया.”

दंडी आश्रम के आचार्य ने सहयोग किया

यह शर्मनाक घटना उज्जैन के महाकाल में घटी. दरअसल, 25 सितंबर सोमवार की सुबह उज्जिन से करीब 15 किलोमीटर दूर बड़नगर रोड पर स्थित दंडी आश्रम में 12 साल का एक लहूलुहान और नग्न हालत में पहुंची उसकी हालत देखकर आचार्य आश्रम ने नाबालिग को तौलिया पहनाया और पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने नाबालिग की हालत देखकर उसे जिला अस्पताल पहुंचाया. हालांकि, पीड़ित की हालत बिगड़ने पर उसे इंदौर रेफर कर दिया गया. अब पुलिस ने अज्ञात अपराधी के खिलाफ रेप और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है. एसपी सचिन शर्मा ने अपराधियों को पकड़ने के लिए एक विशेष टीम का भी गठन किया.

पुलिस टीम इस बात की जांच कर रही है कि लड़की उज्जैन कैसे पहुंची और उसके माता-पिता कहां हैं, क्या लड़की अकेले उज्जैन आई थी या अपने परिवार से बिछड़ गई थी। उज्जैन पुलिस कमिश्नर सचिन शर्मा ने मामले की जांच के लिए नीलगंगा थाने और महाकाल थाने के साथ साइबर टीम को भी भेजा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *