Health Tips: त्वचा ही नहीं बल्कि आंखों के लिए भी खतरनाक साबित हो सकती है चिलचिलाती धूप, एक्सपर्ट से जानें कैसे रखें इनकी देखभाल!

How to protect eyes from Sunlight

गर्मियों में अक्सर हम धूप के संपर्क में आने के कारण कई स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित हो जाते हैं। इस बीच, गर्मी का नकारात्मक प्रभाव न केवल आपके स्वास्थ्य और त्वचा पर, बल्कि आपकी आंखों पर भी दिखाई देता है। तेज़ धूप और गर्मी आपकी आँखों को नुकसान पहुँचा सकती है और विभिन्न समस्याओं का कारण बन सकती है। इस बीच, विशेषज्ञ हमें सुझाव दे रहे हैं कि इस गर्मी में अपनी आंखों की देखभाल कैसे करें।

देशभर में भीषण गर्मी (हीट वेव) और भीषण गर्मी ने लोगों का हाल बेहाल कर दिया है। देश के कई हिस्सों में गर्मी का मौसम अपना असर दिखाना शुरू कर चुका है।पारा बढ़ने के कारण लोगों की जीवनशैली पूरी तरह से बदल गई है। इस मौसम का असर सेहत के साथ-साथ मौसम का असर हमारी आंखों पर भी पड़ता है। तेज धूप और गर्मी से आंखों पर बुरा असर पड़ सकता है और कई समस्याएं हो सकती हैं।

सूरज की रोशनी आंखों के लिए कितनी हानिकारक है?

डॉक्टरों का कहना है कि अत्यधिक गर्मी आपकी आंखों को कई तरह से नुकसान पहुंचा सकती है। सूरज की पराबैंगनी किरणों के लंबे समय तक असुरक्षित संपर्क से फोटोकेराटाइटिस जैसी स्थितियां हो सकती हैं, जो कॉर्नियल सनबर्न, मोतियाबिंद और यहां तक ​​कि रेटिना क्षति से मिलती जुलती है।

शुष्क और धूल भी जलन और असुविधा का कारण बन सकती हैं, जिससे ड्राई आई सिंड्रोम जैसी स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। इन जोखिमों को कम करने के लिए, यूवी-अवरोधक धूप का चश्मा पहनना और खूब पानी पीना महत्वपूर्ण है।

आप अपनी आँखों को गर्मी से बचाने के लिए क्या कर सकते हैं?

  • हमेशा धूप का चश्मा पहनें, जो बाहर जाने पर UVA और UVB किरणों को रोकते हैं, खासकर धूप के घंटों के दौरान।
  • खतरनाक उत्पादों के साथ काम करते समय या खेल खेलते समय सुरक्षा उपकरण, जैसे सुरक्षा चश्मा या चश्मा पहनें।
  • स्क्रीन पर काम करते समय आंखों के तनाव और थकान को कम करने के लिए नियमित ब्रेक लें।
  • अपनी आँखों को नम रखने के लिए बार-बार पलकें झपकाएँ और यदि आवश्यक हो तो कृत्रिम आँसुओं का उपयोग करें।
  • अपनी आंखों के स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने और समस्याओं का शीघ्र पता लगाने के लिए नियमित रूप से अपनी आंखों की जांच कराएं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *