What is ‘Disease X’: कोविड-19 से अधिक घातक हो सकती है ‘Disease X’, जानें क्या कहते है Experts!

Disease X' may be more deadly than Covid-19!

Disease X एक बार फिर खबरों में है। इसके पीछे का कारण ब्रिटेन के स्वास्थ्य विशेषज्ञ की दी चेतावनी है, जिसके अनुसार यह दावा किया जा रहा है कि यह Covid-19 जैसी एक और महामारी का कारण बन सकता है और लाखों लोगों की जान ले सकता है। साथ ही, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने Disease X को अपनी वेबसाइट पर “प्राथमिक बीमारियों” की सूची में शामिल किया है। चूंकि इस बीमारी के बारे में अभी तक कोई सटीक जानकारी नहीं है, इसलिए इसे Disease X का नाम दिया गया है।

दो वैक्सीन विशेषज्ञों की एक नई किताब चेतावनी देती है कि दुनिया अगली महामारी के लिए तैयार नहीं है। लेखकों का दावा है कि अगली महामारी 50 मिलियन लोगों को मार सकती है, जैसे 100 साल पहले स्पेनिश फ्लू ने लाखों लोगों की जान ली थी। डेली मेल में प्रकाशित एक लेख में वे बताते हैं कि वायरस सबसे आम और विविध जीवन रूप हैं और यह न जाने कितने लोगों के लिए खतरा पैदा कर सकते है।

क्या है बीमारी ‘Disease X’ ?

World Health Organization की वेबसाइट के अनुसार, “Diseases X एक गंभीर अंतरराष्ट्रीय महामारी है, जो एक ऐसे रोगज़नक़ के कारण हो सकती है जो वर्तमान में मानव रोग का कारण बनने के लिए अज्ञात है।”

भविष्य में आने वाले महामारी के लिए WHO का कहना है कि रोग अनुसंधान और विकास (R&D) के संसाधन सीमित हैं, जबकि दुनिया भर में संभावित रोगजनकों की संख्या बहुत बड़ी है। इसे सुनिश्चित करने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन कई कदम उठा रहा है। साथ ही, इस आर्गेनाईजेशन में मौजूद उपकरणों का उपयोग यह निर्धारित करने के लिए किया जा सकता है कि कौन सी बीमारियाँ सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए सबसे बड़ा खतरा हैं और क्या इसे बचने के लिए हमारे पास पर्याप्त उपाय है भी या नहीं।

Covid 19 से कितनी खतरनाक है Disease X?

केट बिंघम ने कहा कि Disease X कोरोना वायरस से सात गुना ज्यादा खतरनाक हो सकता है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि अगली महामारी पृथ्वी पर मौजूद किसी वायरस से ही उत्पन्न हो सकती है। आगे जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि 1918-1919 में पहले से मौजूद वायरस के कारण एक महामारी फैली थी। अब तक दुनियाभर में 50 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। केट बिंघम ने आगे कहा कि वैज्ञानिक इस वायरस के बारे में और अधिक जानकारी जुटा रहे है।

वही कुछ हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि Disease X ज़ूनॉटिक होगी। जिसका मतलब यह है कि यह बीमारी, जंगली या पालतू जानवरों से शुरू होगी और फिर मनुष्यों को भी संक्रमित करना शुरू कर देगी। इसके कुछ मुख्य उदहारण है की ईबोला, एचआईवी/एड्स और कोविड-19।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *