Kuwait Fire Accident – कुवैत की बिल्डिंग में लगी आग 40 भारतीयों की मौत, 50 घायल, प्रधानमंत्री ने लिया जायजा

Kuwait Building Fire Accident

Kuwait Building Fire Accident: अधिकारियों ने बताया कि आग छह मंजिला इमारत के रसोईघर में लगी।

विदेश मंत्रालय ने बताया कि कुवैत के मंगाफ़ शहर में श्रमिकों के आवास वाली एक इमारत में आग लगने से 40 भारतीयों की मौत हो गई और 50 घायल हो गए। स्थानीय समयानुसार सुबह 6 बजे (9 am IST) आग लग गई, जिसमें 49 लोगों की मौत हो गई।

आइये इस बड़ी घटना से जुड़े कुछ वास्तविक तथ्य जानें

अधिकारियों ने बताया कि आग छह मंजिला इमारत के रसोईघर में लगी थी। उन्होंने बताया कि इमारत में करीब 195 लोग रहते थे – सभी एक ही कंपनी के कर्मचारी थे। अधिकारियों ने बताया कि ज़्यादातर मौतें उस समय धुएँ के कारण हुईं जब लोग सो रहे थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने आवास पर एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की और मृतकों के परिवारों को 2-2 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की।उन्होंने जान गवा चुके लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की और घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना की।

कुवैत में तत्काल चिकित्सा सहायता की व्यवस्था 

विदेश मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री के निर्देश पर राज्य मंत्री श्री कीर्ति वर्धन सिंह तुरंत कुवैत जा रहे हैं ताकि “मृतकों के पार्थिव शरीर को शीघ्र स्वदेश लाने के साथ-साथ घायलों को चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराई जा सके।” 

घायलों का इलाज कुवैत के पांच सरकारी अस्पतालों – अदन, जाबेर, फरवानिया, मुबारक अल कबीर और जाहरा में किया जा रहा है। मंत्रालय ने कहा कि अस्पताल अधिकारियों के अनुसार, भर्ती अधिकांश मरीज स्थिर हैं।

अस्पताल अधिकारियों की जानकारी

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने अपने कुवैती समकक्ष अब्दुल्ला अली अल-याह्या से बात की जिन्होंने उन्हें वहां के अधिकारियों द्वारा किए गए प्रयासों के बारे में जानकारी दी। श्री जयशंकर ने एक्स पर कहा, “मुझे आश्वासन दिया गया है कि घटना की पूरी जांच की जाएगी और जिम्मेदारी तय की जाएगी।” उन्होंने आगे कहा कि उन्होंने जान गंवाने वालों के शवों को जल्द से जल्द स्वदेश भेजने का आग्रह किया है।

हेल्पलाइन स्थापना

विदेश मंत्रालय ने कहा कि कुवैत में भारतीय दूतावास स्थानीय अधिकारियों के संपर्क में है और उसने परिवार के सदस्यों से संपर्क करने के लिए +965-65505246 (WhatsApp and regular calls) हेल्पलाइन स्थापित की है।

भारतीय राजदूत आदर्श स्वैका ने उस इमारत का दौरा किया जहां आग लगी थी और विभिन्न अस्पतालों का दौरा किया जहां घायलों को भर्ती कराया गया था।

कुवैत की सरकार की प्रतिक्रियाएँ

कुवैत के अमीर का आदेश

कुवैत के अमीर शेख मेशाल अल-अहमद अल-जबर अल-सबा ने अधिकारियों को आग लगने का कारण पता करने का आदेश दिया और कहा कि आपदा के लिए जिम्मेदार लोगों को जवाबदेह ठहराया जाएगा।

जांच और गिरफ्तारियां

कुवैत टाइम्स ने बताया कि प्रथम उप प्रधान मंत्री शेख फहद अल-यूसेफ अल-साहब ने इमारत के मालिको और देखभाल करने वाले के साथ-साथ श्रमिकों के प्रभारी कंपनी के मालिक की गिरफ्तारी का आदेश दिया।

कुवैत में भारतीय समुदाय

कुवैत की कुल आबादी (1 मिलियन) का 21% और कार्यबल का 30% (लगभग 900,000) भारतीय हैं। बताया जाता है कि बाकी मृतक पाकिस्तान, फिलीपींस, मिस्र और नेपाल से आए थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *