Mahatma Gandhi’s 76th Death Anniversary: बापू की 76वीं पुण्यतिथि आज, जानें कब और कैसे हुई थी गांधीजी की हत्या?

Today is Bapu's 76th death anniversary, know when and how Gandhiji was assassinated?

30 जनवरी के दिन हर साल राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्य तिथि मनाई जाती है। साल 1948 में इसी दिन नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। महात्मा गांधी, जिन्हें भारत में प्यार से “बापू” के नाम से जाना जाता है, ने भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

बापू ने देश की आजादी के समय विभिन्न शांतिपूर्ण आंदोलनों के माध्यम से अहिंसा की शक्ति का प्रदर्शन किया। इतना ही नहीं, उन्होंने अपने मूल्यों और सिद्धांतों से विश्व भर के नेताओं को प्रेरित किया। हर साल 30 जनवरी को बापू की पुण्य तिथि को शहीद दिवस के रूप में भी मनाया जाता है।

आइये जानते है, महात्मा गांधी की पुण्य तिथि और शहीद दिवस से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्य-

महात्मा गांधी की 76वीं पुण्य तिथि

महात्मा गांधी की पुण्य तिथि मुख्य रूप से 30 जनवरी को मनाई जाती है। वैसे भी यह दिन शहीदों या बलिदानियों का दिन भी है। इस दिन उन सभी शहीदों का स्मृति दिवस है, जिन्होंने अपने देश के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है।

नाथूराम गोडसे ने मार थी गोली

30 जनवरी, 1948 को, जब महात्मा गांधी दिल्ली के बिड़ला भवन में अपनी पोतियों के साथ एक शाम की प्रार्थना सभा को संबोधित करने वाले थे, एक हिंदू राष्ट्रवादी नाथूराम गोडसे ने उनके सीने में तीन गोलियां मार दीं। रिकॉर्ड बताते हैं कि उनकी तुरंत मृत्यु हो गई।

जब बापू को गोली मारी गई तो उनके मुँह से आखिरी शब्द ‘हे राम’ निकला। माना जाता है कि गोडसे भारत के विभाजन पर गांधीजी के विचारों से असहमत थे।हर साल महात्मा गांधी की पुण्य तिथि मनाई जाती है, जब देश के लोग महात्मा गांधी की पुण्य तिथि को याद करते हैं।

राजघाट पर दी जाती है श्रद्धांजलि

शहीद दिवस पर राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री और सशस्त्र बलों के कमांडर-इन-चीफ ने राजघाट पर महात्मा गांधी की समाधि पर श्रद्धांजलि अर्पित करते है। इसके साथ ही स्वतंत्रता संग्राम के दौरान उनके महत्वपूर्ण योगदान को याद कर उन्हे नमन करते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *