Saphala Ekadashi 2024: कब रखा जाएगा साल का पहला एकादशी व्रत? जानें तिथि, शुभ मुहूर्त व व्रत पारण का समय

Saphala Ekadashi 2024: कब रखा जाएगा साल का पहला एकादशी व्रत?

सफला एकादशी पौष माह में कृष्ण पक्ष के ग्यारहवें दिन को मनाया जाने वाला एक प्रुमख हिन्दू व्रत है। सफला एकादशी, (Saphala Ekadashi 2024) जिसे पौष पुत्रदा एकादशी के नाम से भी जाना जाता है, साल की पहली एकादशी के रूप में भी जानी जाती है।

कब रखा सफला एकादशी 2024 व्रत?

साल 2024 में, सफला एकादशी (Saphala Ekadashi 2024) का यह व्रत रविवार, 6 जनवरी 2024 के दिन रखा जाएगा। पौष माह के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि 7 जनवरी को रात्रि 12:41 बजे शुरू होगी।

वही इसका समापन अगले दिन 8 जनवरी को होगा। दोपहर 12:46 बजे उदया तिथि के अनुसार 7 जनवरी को सफला एकादशी का व्रत रखा जाएगा।

सफला एकादशी व्रत का पारण समय

सफला एकादशी (Saphala Ekadashi 2024 Time) के व्रत पारण का मुहूर्त, सोमवार 8 जनवरी 2024 को, प्रातः 7: 15 मिनट से सुबह 9:20 मिनट के बीच है।

सफला एकादशी का धार्मिक महत्व

  • धार्मिक मान्यता है कि सफला एकादशी के दिन व्रत रखकर जगत के पालनहार श्री हरि विष्णु की पूजा करने से व्यक्ति को सौभाग्य की प्राप्ति होती है। साथ ही जो व्यक्ति पूरी श्रद्धा और सच्चे मन से भगवान विष्णु की पूजा और व्रत करता है उसके सभी काम सफल हो जाते हैं।
  • सफला एकादशी न केवल इच्छाओं को पूरा करने की क्षमता के लिए बल्कि पापों को खत्म करने और आध्यात्मिक जागृति लाने की शक्ति के लिए भी मनाई जाती है। भक्तों का मानना है कि इस पवित्र दिन को मनाने से वे जन्म और मृत्यु के चक्र से मुक्ति पा सकते हैं।
  • ऐसा माना जाता है कि सफला एकादशी का व्रत पितरों के पापों को कम करने में विशेष रूप से प्रभावशाली होता है। इस दिन, अपने पूर्वजों का सम्मान करने और उनका आशीर्वाद लेने के लिए दान करने, अच्छे कार्य करने और धार्मिक अनुष्ठानों में भाग लेने की प्रथा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *