Kerala’s First AI teacher : केरल के इस स्कूल ने रचा इतिहास, भारत के प्रथम AI शिक्षक ‘IRIS’ को किया Launch

Kerala’s First AI teacher

केरल के तिरुवनंतपुरम में एक स्कूल एक AI बेस्ड टीचर, आइरिस को पेश करके शिक्षा के क्षेत्र में एक क्रांतिकारी कदम उठा रहा है। मेकरलैब्स एडुटेक के सहयोग से विकसित, आइरिस राज्य और संभवतः देश का पहला ह्यूमनॉइड रोबोट शिक्षक है।

कडुवायिल थंगल चैरिटेबल ट्रस्ट की इस पहल का शुभारंभ, KTCST हायर सेकेंडरी स्कूल में किया गया है। आइरिस अटल टिंकरिंग लैब (ATL) परियोजना, एक 2021 नीति आयोग की पहल है, जिसका उद्देश्य स्कूलों में पाठ्येतर गतिविधियों को बढ़ावा देना है।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Maker Labs (@makerlabs_official)

भारत की पहली AI रोबोट टीचर

साड़ी पहने हुए ह्यूमनॉइड एआई रोबोट जिसका नाम ‘आइरिस’ है, तिरुवनंतपुरम के केटीसीटी हाई स्कूल की एक महिला रोबोट है।

इसमें एक असली शिक्षिका की कई विशेषताएं हैं और इसकी आवाज एक महिला की तरह है। “मेकरलैब्स एडुटेक”, जो इस AI रोबोट को पेश करता है, कहते हैं कि आइरिस न केवल केरल में बल्कि देश में पहली जेनेरेटिव AI स्कूल शिक्षक हैं।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Maker Labs (@makerlabs_official)

3 भाषाएं जानती है IRIS

आइरिस तीन भाषाएँ बोलती है और विद्यार्थियों के कठिन सवालों का जवाब दे सकती है। IRIS का नॉलेज बेस, जो चैटजीपीटी जैसे प्रोग्रामिंग से बनाया गया है, अन्य ऑटोमेटिक शिक्षण उपकरणों की तुलना में काफी व्यापक है, जैसा कि “मेकरलैब्स” ने बताया है।

उन्होंने यह भी कहा कि ह्यूमनॉइडको छात्रों के लिए अनुपयुक्त विषयों, जैसे ड्रग्स, सेक्स और हिंसा के बारे में जानने के लिए प्रशिक्षित नहीं किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *